दुकालू यादव-Cg Holi Song-Tor Nawa Nawa Salwar-Dukalu Yadav-New Hit Chhatttisgarhi Geet HD Video 2018

Album – Holi Ke Meeth Boli Song – Tor Nawa Nawa Salwar Singer – -Dukalu Yadav Producer – Rekh Chnad Oswal Editor – Shesh Nishad Graphics – Sandhya Chhatriya, Jyoti Deep Contact for Recording – AVM Audio & Video Studio, Naer L.I.C. Building Shree Nagar Khamtarai, Raipur (C.G) MO – 09301523929 रिकॉर्डिंग के लिये संपर्क करे – AVM ऑडियो & विडियो स्टूडियो L I C बिल्डिंग के पास श्री नगर खमतराई रायपुर (छ.ग )

Your PAN card may become useless after 22 days! Do this before the deadline 1

Your PAN card may become useless after 22 days! Do this before the deadline

Your PAN card may become useless after 22 days! Do this before the deadline 2
PAN card is one document that shows your financial status. But, what if your PAN card becomes invalid? Yes, it is possible if you do not link it with Aadhaar within the next 22 days (i.e. by 31, March 2019).

PAN card is one of the most important documents. It is needed for financial transactions, be it filing the income tax returns, claiming IT refund or opening a bank account. PAN card is one document that shows your financial status. But, what if your PAN card becomes invalid? Yes, it is possible if you do not link it with Aadhaar within the next 22 days (i.e. by 31, March 2019). 
Pan-Aadhaar linking compulsory
The last date for linking PAN card with Aadhaar is 31st March 2019. If you fail to finish the linking then you may face a lot of trouble in future. Last year, the Government had either closed or put 11.44 lakh PAN cards in the inactive category. After the deadline of March 31, this may happen to your PAN card as well if you fail to link it with Aadhaar. 
If your PAN Card is not linked with Aadhaar yet, then you may face a lot of troubles. Under Section 139AA of the Income Tax Act, your PAN will be considered invalid. According to experts, if your PAN is not linked to Aadhaar before the end of deadline then you will not be able to file online ITR. Your tax refund will also get stuck and the PAN card will become invalid
Last year in July, the CBDT had extended the deadline for PAN-Aadhaar linking to 31st March, 2019.
As per Section 139 AA (2) of the Income Tax Act, every person having PAN as on 1 July 2017, and eligible to obtain Aadhaar, must intimate his Aadhaar number to the tax authorities.
As per official data till March 2018, over 16.65 crore PANs, out of the total about 33 crore, were linked with Aadhaar. 

Tor Maya Ke Charcha – तोर मया के चरचा || Nisha Choubey & Dani Ram Sahu 07772054693 – CG Song

Tor Maya Ke Charcha – तोर मया के चरचा || Nisha Choubey & Dani Ram Sahu – 07772054693 – CG Song – CG Lokgeet – Whatsapp Only – 7049323232 Star Cast – Karan Khan & Nisha Chaubey Song : Tor Maya Ke Charcha – तोर मया के चरचा Artist : Karan Khan & Nisha Choubey Lyrics : Dani Ram Sahu Music : Suraj Mahanand Singer : Nisha Choubey 07772054693 Dani Ram Sahu Choreographer : Chandan Deep – Mo. 09827991511 Camera : Raju Devdas – Mo. 07898872323 Editor : Radhe Nirwan – Mo. 09329014000 Sound Plyar : Chhavi Devdas Graphics : Sushil Yadav Producer : Lakhi Sundrani Youtube : Radhe Nirwan Present By Mohan Sundrani Language : Chhattisgarhi Genre : Regional

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 3

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 4
सामाजिक जीवन में जाति व्यवस्था के अनुसार, निम्न जाति समझी जानेवाली जाति में जन्में संत रविदास को उनके विचारों और शब्दों ने दूर-दूर तक ख्याति दिला दी। बड़े-बड़े साधु-संत, महात्मा यहां तक कि राजा-महाराज भी उनकी विद्वता से प्रभावित थे। अपनी कठौती से सोने का कड़ा निकाल देनेवाले संत रविदास को कभी भी धन और माया का मोह नहीं रहा। आइए, आज उनके दोहों को अपने जीवन में उतारने का प्रयास करें। ताकि हम भी जीवन में कुछ बेहतर कर सकें…

गुण ही सर्वोपरि

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 6
ब्राह्मण मत पूजिए जो होवे गुणहीन,
पूजिए चरण चंडाल के जो होने गुण प्रवीन।।

इस दोहे में रविदास जी कहते हैं कि किसी को सिर्फ इसलिए नहीं पूजना चाहिए क्योंकि वह किसी पूजनीय पद पर बैठा है। यदि व्यक्ति में उस पद के योग्य गुण नहीं हैं तो उसे नहीं पूजना चाहिए। इसकी जगह अगर कोई ऐसा व्यक्ति है, जो किसी ऊंचे पद पर तो नहीं है लेकिन बहुत गुणवान है तो उसका पूजन अवश्य करना चाहिए।

मन की पवित्रता

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 8
मन ही पूजा मन ही धूप, मन ही सेऊं सहज स्वरूप।।

इस पंक्ति में रविदासजी कहते हैं कि निर्मल मन में ही भगवान वास करते हैं। अगर आपके मन में किसी के प्रति बैर भाव नहीं है, कोई लालच या द्वेष नहीं है तो आपका मन ही भगवान का मंदिर, दीपक और धूप है। ऐसे पवित्र विचारों वाले मन में प्रभु सदैव निवास करते हैं।

कर्म का फल

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 10
रविदास जन्म के कारनै, होत न कोउ नीच
नकर कूं नीच करि डारी है, ओछे करम की कीच

इस दोहे में रविदासजी कहते हैं कि कोई भी व्यक्ति किसी जाति में जन्म के कारण नीचा या छोटा नहीं होता है। किसी व्यक्ति को निम्न उसके कर्म बनाते हैं। इसलिए हमें सदैव अपने कर्मों पर ध्यान देना चाहिए। हमारे कर्म सदैव ऊंचें होने चाहिए।

कठौती में गंगा

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 12
‘मन चंगा तो कठौती में गंगा’

संत रविदास की यह कहावत बहुत ही प्रसिद्ध है। इस कहावत के जरिए एक बार फिर रविदास जी मन की पवित्रता पर जोर देते हैं। रविदास कहते हैं, जिस व्यक्ति का मन पवित्र होता है, उसके बुलाने पर मां गंगा एक कठौती में भी आ जाती हैं।

न क्रोध आए न काम

संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा 14
रैदास कहै जाकै हदै, रहे रैन दिन राम
सो भगता भगवंत सम, क्रोध न व्यापै काम।।

इस दोहे में संत रविदास भक्ति की शक्ति का वर्णन करते हैं। रैदासजी कहते हैं, जिस हृदय में दिन-रात बस राम के नाम का ही वास रहता है, ऐसा भक्त स्वयं राम के समान हो ता है। राम नाम की ऐसी माया है कि इसे दिन-रात जपनेवाले साधक को न तो किसी के क्रोध से क्रोध आता है और न ही कभी कामभावना उस पर हावी होती है।
Lekh Narayan Tandekar -SBI News

SBI’s Pehla Kadam and Pehli Udaan account With Zero Balance

SBI's Pehla Kadam and Pehli Udaan account With Zero Balance 15

SBI’s Pehla Kadam and Pehli Udaan accounts can be operated with zero balance, according to the bank.

Customers don’t need to maintain a Monthly Average Balance (MAB) for both accounts.

State Bank of India (SBI), the country’s largest lender, offers Pehla Kadam and Pehli Udaan savings accounts for minors. While the Pehla Kadam account can be opened in the name of an individual aged below 18 years, the Pehli Udaan account is meant for those are above 10 years of age, according to SBI’sofficial website – sbi.co.in. Customers don’t need to maintain a Monthly Average Balance (MAB) for both accounts. In other words, these bank accounts can be operated with zero balance. However, the maximum balance in these accounts should not exceed Rs 10 lakh.

Here are key things to know SBI’s Pehla Kadam and Pehli Udaan accounts:
1. Eligibility
Pehla Kadam: Minor of any age can open this account but it has to be jointly opened with the parent or guardian.
Pehli Udaan: This account can be opened by a minor above the age of 10 years who can sign uniformly. However, this account will be opened in the sole name of the minor.
2. ATM-cum-Debit Card
Pehla Kadam: Child’s photo embossed ATM-cum-Debit Card with withdrawal/POS limit of Rs. 5,000 will be issued in the name of the minor and guardian, said SBI Pehli Udaan: The account holder will get a photo embossed ATM-cum-Debit with withdrawal/POS limit of Rs. 5,000 in his/her name.
3. Cheque book facility
Pehla Kadam: Personalised chequebook with 10 cheque leaves are issued to the guardian in the name of minor under guardian.
Pehli Udaan: Personalised chequebook with 10 cheque leaves is issued if the minor can sign uniformly.
4. Internet & Mobile banking
Internet banking: Both the accounts have a per day transaction limit of Rs. 5,000. One can make bill payments, inter-bank funds transfer (NEFT only), and get demand drafts from these accounts. 
Mobile banking: Both the accounts have a transaction limit of Rs. 2,000 per day. One can make bill payments, top-ups from these accounts, said SBI.
5. Interest rate 
The interest rate on Pehla Kadam and Pehli Udaan is similar to savings bank account, which is calculated on daily basis for both the accounts. The bank offers an interest rate of 3.50 per cent p.a.
BSNL Revises Rs 98 Prepaid Plan, Now Offers 2GB Daily Data and Eros Now Subscription 16

BSNL Revises Rs 98 Prepaid Plan, Now Offers 2GB Daily Data and Eros Now Subscription

After reducing the validity of two voice-only prepaid plans of Rs 99 and Rs 319, BSNL has now revised its Rs 98 data-only prepaid STV which is valid across the country. Well, this revision has both good and bad moves from BSNL as the telco has increased the data benefit, and at the same time reduced the validity of the plan by two days. Furthermore, the Rs 98 Data STVnow comes with Eros Now subscription for 28 days. For the unaware, BSNL partnered with Eros Now to offer free content with some of its prepaid plans. At the moment, the telco is providing Eros Now subscription with only the newly launched Rs 78 prepaid plan, and now, it has added the Rs 98 plan to the list. Additionally, BSNL’s other prepaid plans of Rs 333 and Rs 444 also come with Eros Now subscription.
BSNL Revises Rs 98 Prepaid Plan, Now Offers 2GB Daily Data and Eros Now Subscription 17
BSNL Rs 98 Prepaid Plan Receives a Revision: What it Offers?
To recall, BSNL used to offer 1.5GB data per day for 26 days with the Rs 98 prepaid plan. However, after the revision, the plan comes with 2GB daily data benefit, and once the FUP limit completes, data speeds will be reduced to 80 Kbps. Earlier, the plan did not offer any after FUP data, so it’s a welcome move by BSNL. Sadly, BSNL has reduced the validity of the prepaid plan by two days and it now offers benefits for 24 days from the date of recharge.
Lastly, the plan now ships with free Eros Now subscription for the validity period. To make use of the subscription, you’ll have to head over to Eros Now app and login with your BSNL prepaid plan which is recharged with the Rs 98 plan.
BSNL Prepaid STVs of Rs 333 and Rs 444 Now Offer Eros Now Membership
Alongside revising the Rs 98 data-only STV, Bharat Sanchar Nigam Limited also added Eros Now benefit to the Rs 333 and Rs 444 prepaid plans. These two plans are available for a long time, but now, they ship with Eros Now subscription for the validity period. The Rs 333 Prepaid STV which is also known as BSNL Triple ACE plan offers unlimited voice calling, 3GB data per day and Eros Now membership for 45 days. On the flip side, the Rs 444 or BSNL Chaukka plan provides unlimited voice calling, 4GB data per day and Eros Now subscription for 60 days from the date of recharge.
Except for the addition of Eros Now membership, BSNL did not make any changes to the benefits of both the plans. These new changes from BSNL are already valid across the 20 telecom circles where the telco has its services.
BSNL Revises Rs 99 and Rs 319 Voice-Only Prepaid Plans
In recent times, BSNL has made a habit of reducing the validity of its popular prepaid plans. Earlier this month, it reduced the validity of Rs 99 and Rs 319 voice-only prepaid plans which disappointed many users out there. Both the Rs 99 and Rs 319 plans offer unlimited voice calling benefit to any network across the country. They now come with a validity of 24 and 84 days respectively. Earlier, BSNL offered the same plans with 26 and 90 days validity.
Is BSNL going to be shut down soon? Report says govt asks BSNL 18
Is BSNL going to be shut down soon? Report says govt asks BSNL

Is BSNL going to be shut down soon? Report says govt asks BSNL 19

HIGHLIGHTS

  • The other options that the government is looking for BSNL include strategic disinvestment of company and revival.
  • BSNL has been asked to submit a comparative analysis of all these options.
  • BSNL had posted a loss of Rs 4,793 crore in 2016-17.
BSNL, a public sector company and one of the largest telecom firms in India, is not profitable. So, now the government has reportedly asked to company to explore “all options” including closure. In other words, if everything fails — and chances are that this is BSNL we are talking about everything is likely to fail — the government may sell or close BSNL.
According to a TOI report, the government’s directives to BSNL came after the company’s top officials met with telecom secretary Aruna Sundararajan. BSNL’s chairman Anupam Shrivastava in the meeting reportedly talked about the company’s current financial status, its losses, how it was been affected by the entry of Jio, prospects of voluntary retirement scheme and early retirement plans for employees.
The government officials have asked BSNL to prepare a note on what would happen if its business is shut down. The other options that the government is looking for BSNL include strategic disinvestment of company and revival. BSNL has been asked to submit a comparative analysis of all these options.
BSNL which offers mobile, landline and broadband services in the country, had posted a loss of Rs 4,793 crore in 2016-17. While the company is yet to announce its financial results for 2017-18, it has been posting losses for the last three years. According to guidelines issued by Department of Public Enterprises, BSNL has been declared “Incipient Sick.” A public sector company is considered “Sick” by the government if it posts losses in any financial year equal to 50 per cent or more of its average net worth during four years immediately preceding such financial year.
BSNL has told the government that apart from the cut-throat competition in the market, it is also struggling with its large ageing population of employees. “If the age of superannuation is reduced from 2019-2020, there would be savings of approximately Rs 3,000 crore in the bill,” a company spokesperson later told TOI.
The problem for BSNL is that even though it has a large number of subscribers it has not been able to compete, for various reasons, with companies like Jio, Airtel and Vodafone. In the last couple of years it has failed to upgrade its network to 4G at a pace that could have allowed it to compete with Jio and Airtel. Similarly, it has also struggles to rollout its fiber broadband service. For a long time, BSNL got subscribers because of its reach, because it was available in areas where other telecom companies didn’t exist. But that is something Jio and Airtel in the last couple of years have been able to counter as they have improved their network availability.
Valantine Day SMS 20
Valantine Day SMS
Valantine Day SMS 21
“All I want is some one to be there for me,
All I want is some one who will care for me,
All I want is some one who would be true,
All I want is some one to be like you. Happy valentines day. …
 CG vehicle Number Series

🚘 *छ. ग. विभिन्न जिलों के नंबर सीरीज*

🔹 *CG-01 छत्तीसगढ़ गवर्नर*
🔸 *CG-02 छत्तीसगढ़ शासन*
🔹 *CG-03 छत्तीसगढ़ पुलिस*

🔹 *CG-04 रायपुर*
🔸 *CG-05 धमतरी*
🔹 *CG-06 महासमुंद*
🔸 *CG-07 दुर्ग*
🔹 *CG-08 राजनांदगांव*
🔸 *CG-09 कवर्धा*
🔹 *CG-10 बिलासपुर*

🔸 *CG-11 जांजगीर-चांपा*
🔹 *CG-12 कोरबा*
🔸 *CG-13 रायगढ़*
🔹 *CG-14 जशपुर*
🔸 *CG-15 अंबिकापुर*
🔹 *CG-16 बैकुण्ठपुर*
🔸 *CG-17 जगदलपुर*
🔹 *CG-18 दन्तेवाड़ा*
🔸 *CG-19 कांकेर*
🔹 *CG-20 बीजापुर*

🔸 *CG-21 नारायणपुर*
🔹 *CG-22 बलौदाबाजार*
🔸 *CG-23 गरियाबंद*
🔹 *CG-24 बालोद*
🔸 *CG-25 बेमेतरा*
🔹 *CG-26 सुकमा*
🔸 *CG-27 कोंडागांव*
🔹 *CG-28 मुंगेली*
🔸 *CG-29 सूरजपुर*
🔹 *CG-30 बलरामपुर*

सीएम भूपेश का बजट; 400 यूनिट तक का घरेलू बिजली बिल आधा 22

छत्तीगसढ़ बजट / सीएम भूपेश का बजट; 400 यूनिट तक का घरेलू बिजली बिल आधा

विधानसभा में बजट पेश करते मुख्यमंत्री भूपेश बघेलविधानसभा में बजट पेश करते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

  • प्रदेश सरकार ने अब तक सबसे बड़ा बजट 95 हजार करोड़ पेश किया
  • बजट में सबसे ज्यादा किसानों पर फोकस, कर्जमाफी, समर्थन मूल्य और बोनस
  • प्रत्येक राशन कार्ड पर 35 किलो चावल, विधायक निधि अब 2 करोड़

रायपुर. मुख्यमंत्री और वित्तमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को विधानसभा में अपनी सरकार का पहला बजट पेश किया। अब तक का सबसे बड़ा 95 हजार करोड़ का बजट पेश करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानों और गरीबों के लिए राजकोष के दरवाजे खोल दिए। विधानसभा में पेश किया गया, इसे लोकसभा का चुनावी बजट कह सकते हैं। 
किसानों के लिए बजट में 19000 करोड़ से ज्यादा का प्रावधान
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वित्तीय वर्ष 2019-20 का बजट पेश किया है। इसके तहत सबसे ज्यादा किसानों पर फोकस करते हुए उनके लिए बजट में 19000 करोड़ रुपए से ज्यादा का प्रावधान किया गया है। इसे ग्रामीण किसानों का अपना बजट कह सकते हैं। 
सीएम बघेल ने सरकार के सूत्र वाक्य नरवा-गरवा-घुरवा-बारी के जरिए गांवों की तरक्की के लिए बजट में प्रावधान रखा गया है। इसमें गांव के लोगों को रोजगार मुहैय्या कराने इसे मनरेगा से जोड़ा गया है। मतलब किसानों के साथ-साथ गांव और गांव वालों की तरक्की के ढेरों प्रावधान बजट में हैं। 
भूपेश बघेल सरकार ने अपना एक और बड़ा चुनावी वादा पूरा करते हुए बजट में बिजली बिल हाफ कर दिया है। उपभोक्ताओं के 400 यूनिट तक का बिजली बिल हाफ होगा। इसके लिए 400 करोड़ का प्रावधान किया गया है। खास बात कि बजट में किसी नए कर का प्रावधान नहीं। 
इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय बढ़ाने, किसानों की स्थिति को मजबूत बनाने, युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खोलने, सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए बजट में प्रावधान किए जाने की बात कही। 
गांव, खेती और किसान से जुड़ीं खास-बातें

कृषि ऋण माफ करने के लिए 5 हजार करोड़ का प्रावधान गरीब परिवारों को 35 किलो चावल देने के लिए 4 हजार करोड़ का प्रावधान सरकार 2500 रुपए दर से धान खरीदेगी। इसके लिए 5 हजार करोड़ का प्रावधान किया गया है। व्यवसायिक बैंकों में बांटे गए 4 हजार करोड़ का अल्पकालीन कृषि ऋण माफ, किसानों का बकाया बिजली बिल हाफ जाएगा। सीधे 15 लाख किसानों को मिलेगा फायदा।  किसानों को 0% पर मिलेगा लोन। किसानों के 207 करोड़ का सिंचाई कर माफ किसानों की आय बढ़ाना सरकार की प्राथमिकता। गन्ना किसानों को बोनस के लिए 50 करोड़ का प्रावधान। मक्का खरीदी की व्यवस्था को पुख्ता किया जाएगा फसल बीमा योजना में बढ़ोतरी। कृषि विकास के लिए 21 हजार करोड़ का प्रावधान। नरवा-गरवा-घुरवा-बारी के लिए 1542 करोड़ का प्रावधान।  फसल बीमा योजना में बढ़ोत्तरी। 20 नए पशु औषधालय का प्रावधान। बेमेतरा में नवीन कृषि महाविद्यालय खोला जाएगा। गोबर गैस प्लांट के लिए हर गांव में 10 युवाओं को ट्रेनिंग। हर गांव में तीन एकड़ जमीन पर गौठान का निर्माण। ग्रामीण को मिलेगा पोषण आहार।  कृषि विभाग का नाम बदलकर अब कृषि विकास एवं जैव प्रौद्योगिकी  विभाग कर दिया गया है।

प्रदेश में खुलेंगे 5 फूड पार्क, 50 करोड़ का प्रावधान
प्रदेश के किसानों को उनके उत्पादन की पूरी लागत प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बजट में प्रदेश में 5 फूड पार्क खोलने की घोषणा करने के साथ उसके लिए 50 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विधानसभा चुनाव से पूर्व अपने भाषणों में प्रदेश के फूड प्रोसेसिंग यूनिट खोले जाने की घोषणा की थी। 
शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार को स्कूलों का उन्नयन, महाविद्यालयों के रिक्त पदों पर भर्तियां
शैक्षणिक संस्थानों में गुणवत्ता में बढ़ोतरी के लिए 25 हाई स्कूलों का हायर सेकंडरी उन्नयन किया जाएगा। इसके अलावा मिडिल और प्राइमरी स्कूल के उन्नयन का प्रावधान किया गया है। इसके लिए बजट में 34.50 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

बालोद में महिला महाविद्यालय की स्थापना की जाएगी। वहीं प्रदेश के महाविद्यालयों में रिक्त 1347 सहायक प्राध्यापकों की नियुक्त की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।   छात्रों की भोजन राशि को बढ़ाकर 700 रुपए कर दिया गया है। इसके साथ ही मिड डे मील बनाने वालों का मानदेय 1200 रुपए से बढ़ाकर 1500 रुपए किया गया।  बालोद में महिला यूनिवर्सिटी की स्थापना। कौशल विकास योजना के लिए 135 करोड़ का प्रावधान। शिक्षा के सुधार के लिए मॉनिटरिंग कर उसे प्रभावी बनाया जाएगा।

पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज के लिए 10 करोड़ का प्रावधान। एससी/एसटी  छात्रावसों में सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। 
स्वास्थ्य सेवाओं के लिए खुलेंगे नए अस्पताल, होगी भर्तियां

यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू की जाएगी। बिलासपुर में बर्न यूनिट खोला जाएगा। जगदलपुर में मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल खुलेगा।  जिला अस्पताल गरियाबंद में 100 बिस्तर हॉस्पिटल बनाया जाएगा।  अस्पतालों की सफाई के लिए 15 करोड़ रुपए का प्रावधान

महिलाओं, बच्चों, दिव्यांगों, युवाओं का रखा ध्यान 

हर संभाग में कामकाजी महिला आवास गृह बनेंगे। महतारी जतन योजना के लिए 24 करोड़ का प्रावधान।  सीएम कन्यादान योजना की राशि बढ़ाई गई। अब मुख्यमंत्री कन्या दान योजना में 2500 रुपए मिलेंगे।  कुपोषण में कमी के लिए 1340 करोड़ रुपए का प्रावधान। वहीं दिव्यांगजनो को शादी के लिए मिलेंगे एक लाख रुपए। नशा मुक्ति के लिए सरकार काम करेगी। मानसिक रूप से अशक्त जन 18 वर्ष से अधिक आयु वालों के लिए उपचार केंद्र घरौंदा की  बालोद जिले में स्थापना।

बढ़ेंगे रोजगार के अवसर
कौशल विकास के लिए बजट में प्रावधान। प्रशिक्षण के बाद दो लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार।
नए खुलने वालों अस्पतालों के 242 स्टाफ नर्सों की भर्ती होगी। 
प्रदेश में 2 हजार पुलिसकर्मियों की भर्ती होगी।
विधायक निधि,  पुलिस सुरक्षा और जेल
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधायक निधि की राशि एक करोड़ से बढ़ाकर 2 करोड़ रुपए करने की घोषणा की। इसके लिए 182 करोड़ का प्रावधान किया गया है। वहीं पुलिस कार्यबल में भत्ते के लिए  45.54 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया। 

एनडीआरएफ के जवानों को 50 फीसदी भत्ता बेमेतरा और बिलासपुर में 1500 और 200 क्षमता वाले जेल का निर्माण। रायपुर में नई सेंट्रल जेल बनेगी। 5 नए थाने और कोर्ट भवन के लिए 140 करोड़ रुपए का प्रावधान।

बजट की और खास घोषणाएं

वन अधिकार पत्रों की जांच की जाएगी। जमीन और जंगल आदिवासियों की पहचान। आदिवाली जंगल जमीनों के सबसे बड़े रक्षक।  गांवों में मिनी माता अमृत जल योजना शुरू होगी। इसके लिए 231 करोड़ रुपए। बीपीएल उपभोक्ताओं को पेयजल के लिए निशुल्क कनेक्शन।  35 नई सड़कों के लिए 300 करोड़ रुपए। मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के लिए 238 करोड़ का प्रावधान। रेलमार्ग योजना के लिए 317 करोड़ का प्रावधान। 19 करोड़ की लागत से 2 आरओबी बनेंगे।  सुराजी गांव योजना शुरू होगी। स्वच्छ भारत के लिए 450 करोड़ का प्रावधान। सुपेबेड़ा जल प्रदाय योजना के लिए 2 करोड़ का प्रावधान। स्मार्ट मीटर के लिए 33 करोड़ का प्रावधान। स्मार्ट सिटी योजना के लिए 396 करोड़ का प्रावधान। शहरी इलाकों में सबको आवास के लिए 595 करोड़।  सुपेबेडा जल प्रदाय योजना शुरू की जाएगी इसके लिए 2 करोड़ का प्रावधान। रोपित पौधों में बड़े पौधों के निर्माण के लिए 20 करोड़ का प्रावधान।

राज्य का जीडीपी घाटा 10 हजार करोड़,  6.8% की वृद्धि अनुमानित
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बजट पेश करने के दौरान सदन में बताया कि राज्य का जीडीपी घाटा वर्तमान में 10 हजार करोड़ रुपए का है। बजट से इसमें 6.8% की वृद्धि की दर अनुमानति है, जो कि 3 लाख 12 हजार करोड़ होगी। 
उन्होंने बताया कि इसके चलते प्रति व्यक्ति आय 96 836 रुपए अनुमानित है। यह राष्ट्रीय स्तर की तुलना में प्रति व्यक्ति आय लगभग दो तिहाई है। साथ ही मुख्यमंत्री ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए कोई नया कर प्रस्ताव नहीं करने की घोषणा की।